Head Office

SAMVET SIKHAR BUILDING RAJBANDHA MAIDAN, RAIPUR 492001 - CHHATTISGARH

tranding

भौम प्रदोष व्रत आज, कर्ज मुक्ति के लिए इस मुहूर्त में करें शिव जी पूजा, जानिए पूजा विधि

पंचांग के अनुसार, हर माह त्रयोदशी तिथि के दोनों पक्षों में प्रदोष व्रत रखा जाता है। प्रदोष व्रत के दिन भगवान शिव की विधि-विधान से पूजा अर्चना की जाती हैं।

tranding

घर में है शालिग्राम तो जरूर ध्यान रखें ये बातें, वरना श्री हरि हो जाएंगे रुष्ट

शालिग्राम अधिकतर घरों में रखकर पूजे जाते हैं। शालिग्राम काले रंग के गोल चिकने पत्थर के रूप में होते हैं। शास्त्रों के अनुसार, जिस प्रकार से भगवान शिव का उनके निराकार रूप शिवलिंग को माना जाता है।

tranding

एक बार फिर आए ऋषभ युग

भगवान ऋषभदेव जैन धर्म एवं वर्तमान अवसर्पिणी काल के प्रथम तीर्थंकर हैं। तीर्थंकर का अर्थ होता है-जो तीर्थ की रचना करें। जो संसार सागर यानी जन्म मरण के चक्र से मुक्ति दिलाकर मोक्ष प्रदत्त करें।

tranding

28 मार्च को पापमोचनी एकादशी जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

एकादशी का काफी अधिक महत्व है। हिंदू पंचांग के अनुसार, साल में 24 एकादशी पड़ती है।

tranding

शीतला अष्टमी 25 को जानें शुभ मुहूर्त, पूजन विधि व महत्व

चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को शीतला अष्टमी का त्योहार मनाया जाता है। शीतला अष्टमी को बसोड़ा के नाम से भी जानते हैं। शीतला अष्टमी होली के आठ दिन बाद मनाई जाती है।

tranding

अलौकिक साधना एवं सृजन वाली विलक्षण साधिका

जैन परंपरा के सबसे छोटे आम्नाय तेरापंथ धर्मसंघ की वयोवृद्ध तेजस्वी साधिका, प्रखर साहित्यकार-लेखिका, साध्वी समुदाय की प्रमुखा, शासनमाता साध्वीप्रमुखा कनकप्रभाजी का आज 17 मार्च 2022 को प्रात: 8 बजकर 45 मिनट पर सल्लेखनापूर्वक समाधिमरण हो गया! एक दिव्य रोशनी

tranding

आमलकी एकादशी पर जरूर करें ये उपाय हमेशा बनी रहेगी भगवान विष्णु की कृपा

फाल्गुन मास शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि के साथ सोमवार का दिन है। हिंदू पंचांग के अनुसार, फाल्गुन मास की एकादशी का काफी अधिक महत्व है।

tranding

गलत तरीके से कमाया पैसा सिर्फ इतने दिन ही रहता है साथ, ऐसे हो जाएगा खर्च

आचार्य चाणक्य राजनीति और अर्थशास्त्र के ज्ञाता माने जाते थे। वह एक ऐसे विद्वान थे जिन्होंने मनुष्यों को सफल जीवन जीने के लिए विभिन्न तरीके नीति शास्त्र में बताए हैं।

tranding

घर व प्रोफेशन में शांति और तरक्की के लिए इस दिशा में बैठकर करें भोजन

वास्तु शास्त्र में दिशाओं पर खासतौर से फोकस किया जाता है। इसके हिसाब से शयन कक्ष से लेकर पूजा घर तक को अगर आप सही तरीके से सेटअप करें तो आपके घर में शांति बनी रहेगी, तरक्की होगी और नकारात्मक शक्तियां दूर रहती हैं।

tranding

10 मार्च से शुरू होंगे होलाष्टक, जानें क्यों नहीं किए जाते शुभ कार्य

होलिका दहन से आठ दिन पहले होलाष्टक शुरू हो जाते हैं जो 10 मार्च से 18 मार्च तक चलेंगे।